गुस्से को कंट्रोल कैसे करे। How To Control Your Anger Hindi Tips - Hindi Love Tips

Hot

September 20, 2018

गुस्से को कंट्रोल कैसे करे। How To Control Your Anger Hindi Tips

आज के आर्टिकल में एक बहुत ही कॉमन प्रोब्लेम के बारे में बताने जा रहा हु। अक्सर सबकी लाइफ में ये प्रॉब्लम होती है। किसी की अंदर कम तो किसी के अंदर थोड़ी ज्यादा होगी, वो है Anger, गुस्सा। चाहे आप अपनी बॉडी के थ्रू एक्सप्रेस करे या चाहे अपने वर्ड्स के थ्रू एक्सप्रेस करे, या चाहे अपने मन मे रखे। गुस्सा एक बहुत बड़ी प्रॉब्लम है। जो इंसान को गलत फैसले और बदनामी के सिवा कुछ नही दिला सकता।

Gusse Ko Kabu Karne Ke Sabse Aasan Tarike

How To Control Your Anger Hindi Tips

शायद आपको पता ही होगा कि गुस्सा हेल्थ के लिए अच्छा नही है, बल्कि और भी ज्यादा खतरनाक है। गुस्सा आपकी रिलेशनशिप के लिए अच्छा नही है, चाहे ये रिलेशन हसबैंड-वाइफ का हो, चाहे दो फ़्रेंड्स का हो। वो रिलेशनशिप को अंदर ही अंदर खोखला करके चला जाता है। आपका एक सेकंड का गुस्सा, अगर वो गलत टाइम पे, गलत जगह पे, गलत इंसान के सामने आ गया तो आपका एक सेकंड का गुस्सा आपकी पूरी की पूरी ज़िंदगी को एक सेकंड में तहसनहस कर सकता है। आपको पूरी तरह से बर्बाद कर सकता है। तो आज हम ऊपर-ऊपर सरफेस लेवल पे नही लेकिन थोड़ा डीप में जाकर बात करेंगे, तो ये आर्टिकल लास्ट तक पढ़े।

हर Situation में गुस्से को पूरी तरह से हटाए कैसे।

अब जो में बात कहने जा रहा हु जरा ध्यान से पढिये और हो सके तो अपने अंदर तक जाने देना क्यों कि जब तक आप इस बात को Accept नही करोगे तब तक इस प्रॉब्लम का सॉल्यूशन मरते-दम तक नही निकाल सकते।

लेकिन खास बात ये है कि जो भी ये आर्टिकल पढ़ रहा है, इसका मतलब की उसको गुस्सा आता है। लेकिन में यह कहुगा की आपको गुस्सा बिल्कुल नही आता। आप गलत सोच रहे है, में यहा पर Reality Base पे बात करने जा रहा हु। यानी कि फुल्ली प्रेक्टिकल बात करूंगा। जो लोग सोचते है कि मुझे गुस्सा आता है वो लोग जानबूझकर गुस्सा करते है। सोच समझकर गुस्सा करते है। अपनी मर्जी से गुस्सा करते है। इस सच को समज ने की कोशिश करे, अभी में थोड़ा डीप में बताउगा।

गुस्सा कोई टॉइलेट नही की आता है, या फिर चलो मुजे छू-छू आया अब तो जाना ही पड़ेगा, इस पर हमारा कंट्रोल नही है, लेकिन गुस्सा ऐसा नही है, तो गुस्सा कैसा है? माने तो गुस्सा डांस के जैसा है कभी आपने सोचा कि आज मुजे डांस आया है। जैसे गुस्सा आया वैसे नही ना? डांस आप करते हो जब आपका मन करेगा तभी, आपको में एक रियल लाइफ Example देता हूं।

अगर आप जॉब करते हो, तो आपके साथ ऐसा हुआ ही होगा, की आपका जो बॉस है उनका मूड खराब था, और उन्होंने बिना बात के, बिना किसी वजह से, आपकी बिना किसी गलती से, आप पर गुस्सा किया हो। और ऐसा कही बार आपके साथ हुया होगा। ऐसा सबके साथ होता है, आप अकेले नही है। मतलब की आपकी कोई गलती ही नही है, तो भी बेवजह आपको डाट खानी पड़ी सबके सामने। लोगो के सामने पूरी तरह से आपकी इनसल्ट की जा रही है। तो मुजे आप एक बात बताइये की क्या आप उस समय अपने बॉस को मारने लग जाते हो। क्या आप कंपनी के बॉस को पिट देते हो, की आज के बाद मेरे सामने कभी उंगली मत उठाना वर्ना तेरी नानी याद दिला दूँगा। नही ना? कोई ऐसा नही करते, चुपचाप मुह नीचा करके सुनते रहते है, बड़े ही प्यार से।

Gusse Par Kabu Karne Ke 7 Best Hindi Tips
अब दूसरी तरफ देखे की आप मैरिड है और आपके दो बच्चे है, और आप घर मे अकेले अकेले TV देख रहे है, तभी आपका दोनो बच्चे किसी बात पे लड़ने लगते है और रोने लगते है बार बार मनाने से भी वो बंद नही होता। उस समय आप क्या करते है। अपने बॉस का और आपका सारा का सारा गुस्सा अपने बड़े बेटे पे उतार देते हो। बिना ये समजे की उनकी गलती है या नही, हो सकता है कि छोटे बच्चे की गलती हो। अगर आप भी घर मे छोटे है तो यक़ीनन आपने अपने बड़े भाई या बहन को जुठ बोलके बहुत पिटवाया होगा।

लेकिन हम बिना कुछ सोचे समझे अपने सारे के सारे गुस्सा बच्चे पर उतार देते है। इसको डराते है धमकाते है। आप जरा ध्यान से इस 2 Situation को देखो तो आपको मेरी बात समज में आ जायेगी। की आपको गुस्सा आता नही आप गुस्सा करते हो वो भी अपनी मर्जी से। यहाँ पर Situation 2 है। एक जहा पर आपको गुस्सा आता है उस मे से थोड़ा सा भी गुस्सा एक्सप्रेस नही हो पा रहा। ऐसा क्यों? क्यू की वहां पर आपका नुकसान है। आपको पता है कि भैया अगर आपने बॉस के आगे गुस्सा किया अरे गुस्सा तो बहुत दूर की बात है अगर आपने बॉस के आगे आंखे भी दिखा दी तो अपनी वाट लग जायेगी। समजो की अपनी जॉब हाथ से गई। उसके बाद गाड़ी की MI कहा से भरूंगा। स्कूल की फीस कहा से भरूंगा। तो क्या करे हम। इसलिए आपने गुस्सा नही किया। अपनी मर्जी से। सोच समझ के आपने गुस्सा नही किया।

हमें गुस्सा आता नही जानबुज़के गुस्सा करता हु

अब दूसरी तरफ जो बच्चा है वहां आपको पता है कि यहाँ पर हमारा कोई नुकसान नही है अगर आपने एक दो थपड जाड़ भी दी। अगर आपने मार भी दिया तो वो कहा जाने वाला है। क्या घर छोड़ के चला जायेगा? मतलब की जहा पर हमारा ज़ोर चलता है वहा पर हम गुस्सा करते है। और जहा ज़ोर नही चलता वहां पर हम भीगी बिल्ली बनके खड़े रहते है। ये एक आदत पड़ गयी है हमे। अगर उस आदत को छोड़ना चाहते हो तो सबसे पहले आप इस बात को Accept करो कि मुजे गुस्सा आता नही में गुस्सा करता हु। इसमे कोई दिक्कत नही है आपको सिर्फ Responsibilities लेनी है। अगर आप कभी Responsibilities ले ही नही आप बोलते रहे कि नही मुजे तो गुस्सा बहुत आता है। जैसे कि टॉइलेट आता है तो जाना ही पड़ेगा। क्यों कि लगता है तो जाना ही पड़ेगा इसका कंट्रोल हमारे हाथ मे नही है, हा थोड़े टाइम के लिए रूक सकते है लेकिन स्टॉप नही कर सकते।

अगर आप ये बोलना शरू कर दो की मुजे गुस्सा आता ही नही, में जान बुजके अपनी मर्जी से गुस्सा करता हु। तो आपके हाथ मे कंट्रोल है। जब आप अपनी मर्जी से गुस्सा करते हो तब आपके हाथ मे कंट्रोल है कि गुस्सा कब करना है, कहा पर करना है, किसके सामने करना है, ज्यादा करना है, या कम करना है या फिर नही करना है इसका कंट्रोल हमारे हाथ मे है। मतलब की आप जानबूझकर गुस्सा करते है। अब आपको सोचना है कि आपको गुस्सा करना है या नही करना।

थैंक्स दोस्तो, अपना समय देने के लिए। अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया तो हमे कमेंट में बताए, ताकि हम आपके लिए एक और आर्टिकल लेकर आने वाले है, वो है डर को कैसे भगाये। अगर आप हमें बताएं कि इस आर्टिकल से आपको कोई फायदा मिला या उसफुल हुआ, क्यों की हम आपके लिए ऐसा और भी आर्टिक्ल ले करआने वाले है। इसलिए अपनी राय जरुर हमे बताये। और लाइक एंड शेयर करना ना भूले।